777+ Best Mahakal Shayari in Hindi 2024 | महाकाल शायरी

Mahakal Shayari in Hindi :– दोस्तों इस जग के स्वामी भगवान महादेव को कौन नहीं जानता है। ये सृष्टि उनकी ही देन है। महादेव के पास अपार शक्तियाँ हैं। उन्होंने जग कल्याण के लिए प्राणहारी हलाहल विष को भी पी लिया था। भगवान महादेव को उनके अनेकों नामों से पुकारा जाता है जैसे की भोलेनाथ, कैलाशपति, गौरीपति, शंकर, शिवजी, त्रिनेत्री, महाकाल आदि। दोस्तों भगवान शिव के नाम मात्र से ही असुरों के पसीने छूट जाते हैं।

भगवान शंकर की महिमा अनंत है इसलिए आज की इस पोस्ट महाकाल शायरी में Best Mahakal Shayari in Hindi आपके साथ साझा कर रहे हैं। आशा करते हैं आप इस पोस्ट को बहुत प्यार देंगे।

ना जीने की खुशी ना मौत का गम..!!
जब तक है दम महादेव के भक्त रहेंगे हम..!!

कोई कहे शिव शंभु और शंकर कोई कहे कैलाशपति..!!
कोई कहे भूतनाथ मैं तो कहु सबकी सुनो बाबा भोलेनाथ..!!

मेरे महादेव मुझे मरने का कोई तरीका बता दे..!!
नहीं तो मेरे दिल से उसकी एक एक याद मिटा दे..!!

मेरे जिस्म जान में भोलेनाथ नाम तुम्हारा हैं..!!
आज अगर मैं खुश हु तो यह अहसास भी तुम्हारा हैं..!!

ना जीने की खुशी, ना मौत का गम..!!
जब तक है दम महाकाल के भक्त रहेंगे हम..!!

अकाल मृत्यु वो मरे जो काम करे चांडाल का..!!
काल भी उसका क्या बिगाड़े जो भक्त हो महाकाल का..!!

mahakal shayari,
mahakal ki shayari,
mahakal shayari in hindi,
mahakal shayari 2 line,
mahakal shayari hindi,
mahakal shayari attitude,
mahakal attitude shayari,
shayari mahakal,
mahakal love shayari,
jai mahakal shayari,
mahakal bhakt shayari,
ujjain mahakal shayari,
baba mahakal shayari,
mahakal shayari love,
mahakal attitude shayari in hindi,
mahakal baba shayari,
mahakal hindi shayari,
mahakal ke liye shayari,
mahakal photo shayari,
mahakal shayari english,
jay mahakal shayari,
mahakal shayari in english,
mahakal par shayari,
mahakal shayari new,
mahakal status shayari,
attitude mahakal shayari,
attitude shayari mahakal,
mahakal ke upar shayari,
mahakal ki diwani shayari,
mahakal ki shayari hindi,
jai shree mahakal shayari,
mahakal shayari image,
mahakal shayari photo,
mahakal shayari status,
status mahakal shayari,
mahakal baba ki shayari,
mahakal ke bhakt shayari,
mahakal ke diwane shayari,
sawan shayari in hindi mahakal,
shayari mahakal ki,
baba mahakal ki shayari,
hindi mahakal shayari,
mahakal ka deewana shayari,
mahakal ki deewani shayari,
shayari in hindi mahakal,
shayari on mahakal,

कुछ ज्यादा नहीं जानती तेरी भक्ति के बारे में..!!
बस तेरे दर पर पहुंच कर मेरा सफर खत्म हो जाता हैं..!!

काल का भी उस पर क्या आघात हैं..!!
जिस बन्दे पर महाकाल का हाथ हैं..!!

काल अनेक महाकाल एक देव अनेक महादेव एक..!!
शक्ति अनेक शिवशक्ति एक नेत्र अनेक त्रिनेत्र एक..!!

हवाओं में गजब का नशा छा गया..!!
लगता है महादेव का त्यौहार आने वाला है..!!

Mahakal Shayari in Hindi

वक्त बुरा हैं भी गुजर जायेगा ये वक्त..!!
पर साथ तेरा हैं ये विश्वास हैं मेरा..!!

हम तकदीर पर नही..!!
महादेव पर भरोसा करते हैं..!!

भोलेनाथ तेरी शरण में ही तो बसता हूँ..!!
तुझे ही देखकर तो हसता हूँ..!!

किसी से रखा नहीं अब मैंने वास्ता..!!
शिव ही मेरी मंजिल,अब शिव ही मेरा रास्ता..!!

जब फितरत में नशा महाकाल का हो तो..!!
रुतबे में गुरूर तो होगा ही ना..!!

शीशा कमजोर बहुत होता हैं..!!
मगर सच दिखाने से घबराता नहीं हैं..!!

कुछ यु उतर गए हो मेरी रग रग में तुम..!!
की खुद से पहले अहसास तुम्हारा होता हैं..!!

सिर्फ तुम्हारा साथ चाहिए..!!
बाकि किसी की जरूरत नहीं मुझे हे महादेव..!!

जब दिल को लगती हैं न..!!
तभी दिल महादेव से लगता हैं..!!

सुनो भोलेबाबा कैसा भी आ जाये में और..!!
मेरा प्यार कभी नहीं बदलेगा आपके लिए..!!

Mahakal Shayari

जो दुःख में भी जीने को राजी हैं..!!
उससे सुख कौन छीन सकता हैं भला..!!

हम तो दिवाने है उस कपाली महाकाल के..!!
जो अघोरियों के दिलो पर भी राज करते है..!!

दुश्मन बनकर मुझसे जीतने चला था..!!
नादान मेरे महाकाल से मोहब्बत कर लेता तो मै खुद हार जाता..!!

हँस के पी जाओ भांग का प्याला क्या डर है..!!
जब साथ है अपने त्रिशुल वाला..!!

इसे भी पढ़े:- Mahadev status in Hindi | महादेव शायरी हिंदी

किसी ने मुझसे कहा इतने खूबसूरत नहीं हो..!!
मैंने कहा महाकाल के भक्त खूंखार ही अच्छे लगते हैं..!!

काल का भी उस पर क्या आघात हो..!!
जिस बंदे पर महाकाल का हाथ हो..!!

जैसे हैं खुश हैं अपने हाल पर हैं..!!
अब भरोसा सिर्फ महाकाल पर हैं..!!

जिंदगी एक धुआँ हैं जाने कहा थम जायेगा..!!
कर ले महाकाल की भक्ति,जीवन सफल हो जायेगा..!!

सारे मोह माया त्याग कर भोलेनाथ में रहिये लीन..!!
धन सम्पदा और वैभव तीनो महाकाल के अधीन..!!

महादेव तुम्हारे प्यार में जोगन हो जाऊ..!!
तुम्हारे दर आऊ और तुम्हारी ही जाऊ..!!

खतरनाक स्टेटस महाकाल

खुद को महाकाल से जोड़ दो..!!
बाकि सब मेरे भोले पर छोड़ दो..!!

चल रहा हूँ धुप में तो महाकाल तेरी चाय हैं..!!
शरण हैं तेरी सच्ची बाकि सब मोह माया हैं..!!

रग रग में बसा ,बस महादेव का नाम हैं..!!
एक वही तो हैं,जो मेरे पंखो की उड़ान हैं..!!

हर कस्ट को तू ही हरने वाला हैं..!!
तेरे इस संसार का तू ही रखवाला हैं..!!

झुकता नही शिव भक्त किसी के आगे..!!
वो काल भी क्या करेगा महाकाल के आगे..!!

जो समय की चाल हैं,अपने भक्तों की ढाल हैं..!!
पल में बदल दे सृष्टि को,वो महाकाल हैं..!!

दुनिया के बदलते रंग देखता हूँ पर..!!
सिर्फ आपको महादेव हर पल अपने संग देखता हूँ..!!

जहाँ राख भी रख दो तो पारस बन जाता हैं..!!
ऐसे ही नहीं कोई शहर बनारस बन जाता हैं..!!

जिंदगी का सफर जब हम खत्म कर जायेंगे..!!
हमें यमराज नहीं,महादेव लेने आयेंगे..!!

हवाओं में गजब का नशा छा गया..!!
लगता है महादेव का त्यौहार आने वाला है..!!

Mahakal status Shayari

हीरे मोती और जेवरात तो सेठ लोग पहनते है..!!
हम तो भोले के भक्त है इसीलिए “रुद्वाक्ष” पहनते है..!!

अनजान हु अभी धीरे धीरे सीख़ जाऊंगा पर..!!
किसी के सामने झुक कर पहचान नहीं बनाऊंगा..!!

तांडव उनका जैसे स्वर्ग का नजारा हो..!!
रज भी सोना बन जाए,जब महाकाल तेरा सहारा हो..!!

जिससे देव भी डरते हैं..!!
ऐसा हैं मेरा महादेव..!!

हे महाकाल ,मेरे गुनाहों को माफ कर देना क्योंकि..!!
मैं जिस माहौल में रहेता हूँ,उसका नाम है “Duniya..!!

महाकाल तेरी कृपा रही तो एक दिन अपना भी मुकाम होगा..!!
70 लाख की AUDI कार होगी FRONT शीशे पे महाकाल तेरा नाम होगा..!!

ना जीने की खुशी ना मौत का गम..!!जब तक है..!!
दम महादेव के भक्त रहेंगे हम..!!

भोलेनाथ के भक्तो को..!!
फ़क़ीरी का भुत चढ़ता है मोहब्बत का नही..!!

फिदा हो जाऊँ तेरी किस-किस अदा पर महाकाल..!!
अदायें लाख तेरी, बेताब दिल एक हें मेरा..!!

इसे भी पढ़े:- Mahadev Shayari in Hindi | महादेव शायरी हिंदी

महादेव शायरी हिंदी

कृपा जिनकी मेरे ऊपर तेवर भी उन्हीं का वरदान है..!!
शान से जीना सिखाया जिसने महाकाल उनका नाम है..!!

भोलेनाथ का मैं भक्त सु हनुमान जी का चेला..!!
जिस दिन आ गया अपनी वाली पै मैं सिस्टम हिला दूंगा अकेला..!!

किसी ने मुझसे कहा इतने ख़ूबसूरत नहीं हो तुम..!!
मैंने कहा महाकाल के भक्त खूंखार ही अच्छे लगते है..!!

जब भी मैँ अपने बुरे हालातो से घबराता हूँ..!!
तब मेरे महाकाल की अवाज आती है रूक मैँ आता हूँ..!!

हिन्दूगिरी के बादशाह हैं हम,तलवार हमारी रानी हैं..!!
दादागिरी तो करते ही है,बाकी महाकाल की मेहरबानी है..!!

हे ‪‎महादेव,बस आज इतनी सी ‪WISH‬ मेरी पूरी करना की..!!
जब भी में तेरी ‪पूजा करू‬ तोमेरे बगल में सिर्फ‪वो‬ खड़ी रहे..!!

मैनें तेरा नाम लेके ही सारे काम किये है..!!
महाकाल और लोग समझते है की बन्दा किस्मत वाला है..!!

गांजे मे गंगा बसी,चीलम में चार धाम..!!
कंकर मे शंकर बसे,और जग में महाकाल..!!

भोलेनाथ के भक्त है इसलिये भोले बनकर फिरते है..!!
पर याद रखना, कभी कभी तांडव करना भी जानते..!!

मिलावट है भोलेनाथ तेरे इश्क में, इत्र और नशे की..!!
तभी तो मैं थोडा महका हुआ और थोडा बहका हुआ हूँ..!!

Mahakal Shayari 2 line

जिन्दगी एक धुआँ हैं जाने कहा थम जायेगा..!!
कर ले मेरे महाकाल की भक्ति, जीवन सफल हो जायेगा..!!

जिनके रोम-रोम में शिव हैं वही विष पिया करते हैं..!!
जमाना उन्हें क्या जलाएगा, जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं..!!

कौन कहता है भारत में Fogg चल रहा है..!!
यहाँ तो सिर्फ महाकाल के भक्तो का खौफ चल रहा है..!!

कैसे कह दूँ कि मेरी,हर दुआ बेअसर हो गई..!!
मैं जब जब भी रोया,मेरे भोलेनाथ को खबर हो गई..!!

पागल सा बच्चा हूँ,पर दिल से सच्चा हूँ..!!
थोड़ा सा आवारा हूँ,पर भोलेनाथ तेरा ही दीवाना हूँ..!!

भांग से सजी है सूरत,कैसे करू इनका गुणगान..!!
जब हो जाएगी आंखें लाल मेरी,तभी दिखेंगे महाकाल..!!

तैरना है तो नदी में तैरो,नालो में क्या रखा है..!!
प्यार करना है तो महादेव से करो,इन बेवफाओं में क्या रखा है..!!

जिसके नाथ हो स्वयं भोलेनाथ..!!
वो कैसे हुआ अनाथ..!!

गरीब को किया दान..!!
और मुँह से निकला महादेव का नाम कभी व्यर्थ नहीं जाता..!!
Jai Mahakal..!!

अनपढ़ लोगों की वजह से ही हमारी मातृभाषा बची है..!!
वरना पढ़े – लिखे लोग तो महादेव के नाम से भी शरमाते है..!!

महाकाल की शायरी

है मेरे भोलेनाथ..!!
सुख देना तो इतना देना की मन में “अहंकार ” न आये..!!
और दुःख देना तो बस इतना देना की “आस्था ” न चली जाये..!!

जब जमाना मुश्किल में डाल देता है..!!
तब मेरा भोला हज़ारों रास्ते निकाल देता है..!!

मिलती है,तेरी भक्ति महाकाल बड़े जतन के बाद..!!
पा ही लूंगा तुझे मैं श्मशान में जलने के बाद..!!

मृत्यु का भय उनको है,जिनके कर्मो में दाग है..!!
हम महाकाल के भक्त है,हमारे खून में ही आग है..!!

कर्ता करे न कर सके,शिव करे सो होये..!!
तीन लोक नौ खंड में महाकाल से बड़ा ना कोए..!!

इसे भी पढ़े:- True Line Status in Hindi | जिन्दगी से जुड़ी सच्ची बातें

जिस समस्या का ना कोई उपाय..!!
उसका हल सिर्फ ॐ नामय सिवाय..!!

कैसे कह दूँ कि मेरी, हर दुआ बेअसर हो गई..!!
मैं जब जब भी रोया, मेरे भोलेनाथ को खबर हो गई..!!

कर्ता करे न कर सकै, शिव करै सो होय..!!
तीन लोक नौ खंड में, महाकाल से बड़ा न कोय..!!

हीरे मोती और जेवरात तो सेठ लोग पहनते है..!!
हम तो भोले के भक्त है इसीलिए रुद्राक्ष पहनते है..!!

दिखावे की मोहब्बत से दूर रहता हूँ मैं..!!
इसलिए महाकाल के नशे मे चूर रहता हू मैं..!!

Mahakal ki Shayari

हम ‪महादेव के दीवाने है तान के‪ ‎सीना चलते है..!!
ये महादेव का जंगल है यहाँ शेर ‎श्रीराम के पलते है..!!

भोलेनाथ के भक्त है इसलिये भोले बनकर फिरते है..!!
पर याद रखना कभी कभी तांडव करना भी जानते है..!!

अकाल मृत्यु वो मरे जो काम करे चंडाल का..!!
काल भी उसका क्या बिगाड़ेगा जो भक्त है महाकाल का..!!

हम ‪‎महादेव‬ के दीवाने है,तान के ‪सीना‬ चलते है..!!
ये महादेव का जंगल है,यहाँ शेर ‪‎श्रीराम‬ के पलते है!

माया‬ को चाहने वाला ‪बिखर‬ जाता है..!!
और मेरे ‪‎महादेव‬ को चाहने वाला ‪निखर‬ जाता है..!!

क्या करु मैं ‪अमीर‬ बन कर..!!
मेरा ‪‎महादेव‬ तो ‪फकीरोँ‬ का दिवाना है..!!

जिस मुसीबत का ना कोई उपाय..!!
उसका हल सिर्फ “ॐ नमः शिवाय..!!

जो खुद के लिये मांगते है वो केवल भक्त होते है..!!
जो सब के लिये मांगते है वो शिवभक्त होते है..!!

नाच रहे ड़मरू की ताल पर शिवशंम्भु..!!
त्रिशुलधारी गंगाधर बाबा महाकाल सर्वेशु..!!

मस्तक सोहे ‪चन्द्रमा‬,गंग ‪‎जटा‬ के बीच..!!
श्रद्धा‬ से ‪‎शिवलिंग‬ को,निर्मल जल मन से सीच..!!

महादेव शायरी हिंदी Love

जिनके रोम रोम में शिव हैं..!!
वही विष पिया करते हैं..!!

गरज उठे गगन सारा समुन्दर छोड़ें अपना किनारा..!!
हिल जाए जहान सारा जब गूंजे महादेव का नारा..!!

हम महाकाल नाम की शमा के छोटे से परवाने है..!!
कहने वाले कुछ भी कहे हम तो महाकाल के दिवाने है..!!

नज़र पड़ी जब महाकाल की..!!
जिंदगी बदलगयी मुझ जैसेकंकाल की..!!

सज रहे है दरबारशिव के..!!
कुशदिनों बाद आ रहा Mahashivratri का त्यौहार है..!!

राजनीतिनहीं दिलो पर राज करने की इच्छा..!!
यही मेरे गुरु बाबामहाकाल की शिक्षा है..!!

नागिनकर देता है ना तोलकर देता है..!!
जब भी मेरामहाकाल देता है दिल खोलकर देता है..!!

रो कर मांग लिया करो महादेव से..!!
उसे किसी के भी रोने पे हसी नहीं आती..!!

जिस समस्या का ना कोई उपाय,उसका..!!
हल सिर्फ महाकाल नाम की आशा है..!!

भोलेनाथ, मेरे जिगरी यारों को खुश रखियो..!!

इसे भी पढ़े:- Sad Quotes in Hindi | सैड कोट्स इन हिंदी

Mahakal Attitude Shayari

सबसे बड़ा तेरा दरबार है,तू ही सबका पालनहार है..!!
सज़ा दे या माफ़ी दे,महादेव तू ही हमारी सरकार है..!!

पैसा नहीं है मेरी जेब में,बस महाकाल की तस्वीर है..!!
सुबह शाम उसे देखता क्योंकि वो ही मेरी तकदीर है..!!

हे कैलाश के राजा ,दम लगाने आजा..!!
चिलम बनाई ताज़ा ,ऐ मेरे भोले बाबा अब तो आजा..!!

जहाँ पर आकर लोगों की नवाबी ख़त्म हो जाती है..!!
बस वहीं से महाकाल के दीवानों की बादशाही शुरू होती है..!!

जिस चाँद पर तुम्हे गुमान है..!!
वो चाँद मेरे भोले के सिर पर विराजमान है..!!..!!

जिसका मुझे सदा ही रहा इंतज़ार हैं..!!
वो एक भोला और एक सोमवार हैं..!!

शिव साथ हैं तो..!!
असंभव भी संभव हैं!

आता हूँ महाकाल तेरे दर _पे,अपना शिर्ष झुकाने को..!!
100 जन्म भी कम है भोले ,अहसान तेरा चुकाने को..!!

ना जिंदगी की ख़ुशी ना मौत का गम..!!
जब तक है दम महाकाल के भक्त रहेंगे हम..!!

जब तेरे कर्मो में सुधार जोगा..!!
तब महाकाल को तुझसे प्यार होगा..!!

Mahakal love Shayari

तेरा भक्त तो भोले मौज करता है..!!
क्योकी तेरे नाम का सुमिरन रोज करता है..!!

गुनाह करके कहा छिपाओगे..!!
ये जमीन और आसमान..!!
सब उसका ही हैं..!!

खौफ फैला देना मेरे नाम का..!!
कोई पूछे तो कह देना..!!
भक्त लौट आया हैं महाकाल का..!!

आसान नहीं हैं नीलकंठ हो जाना..!!
विष को गले में रखकर चेहरे पर..!!
भोलापन लाना पड़ता हैं..!!

मुझे कुर्बानी पसंद हैं..!!
पर किसी की मेहरबानी नहीं..!!
हर हर महादेव..!!

जो अपनी कश्ती महादेव के सहारे छोड़ देते हैं..!!
तो खुद तूफान भी..!!
उन कश्ती को किनारे छोड़ दिया करते हैं..!!

आज मैंने महादेव से पूछ ही लिया क्यों रहते हो..!!
हमेशा मेरे साथ महादेव हसते हुए बोले मेरे सिवा और हैं..!!
ही कौन तेरे साथ..!!

या रब..!!
उन्हें भी खुश रखना..!!
जो हमे खुश नहीं देख सकते..!!

इस दुनिया के जो बंधनो में हैं..!!
वो जीव जो हर बंधन से मुक्त हैं..!!
वो मेरे शिव हैं..!!

क्या मांगू में तुझसे भोले..!!
तुमने जो दिया हैं..!!
वो भी तो बहोत सो को हासिल नहीं..!!

Mahakal Shayari image

बाबा महाकाल के भक्त है हर हाल में मस्त है..!!
जिंदगी एक धुँआ है हम चिलम मैं मस्त है..!!
हर हर ‪‎महादेव‬..!!

कहता है की मौत सामने आएगा तो मैंडर जाऊंगा..!!
कैलास तक चलने वाला भोलेनाथ का दीवाना हूँ..!!
मौत को भी हर हर ‪महादेव‬ कर के निकल जाऊंगा..!!

अनजान हूँ पर धीरे धीरे सीख जाऊंगा..!!
पर किसी के आगे झुक कर अपनी पहचान नहीं बनाऊंगा..!!
हर हर महादेव..!!

महादेव की चाबी है जो हर ताले को खोले दे..!!
बिगड़े सारे काम बना देगा..!!
बस एक बार हर हर महादेव बोल दे..!!

हम तो चेले भी उनके है..!!
जिनका कोई गुरु नहीं था..!!
जय महाकाल..!!

इसे भी पढ़े:- 2 Line Shayari in Hindi | खूबसूरत दो लाइन शायरी

आग लगे उस जवानी कों ज़िसमे..!!
महाकाल नाम की दिवानगी न हो..!!
जय श्री महाकाल..!!

पानी उसी को अच्छा लगता है जिसे प्यास हो..!!
महादेव उसी की सुजते हैं..!!
जिन्हे उन पर अटूट विश्वास हो..!!

शिव की भक्ति कर ले जीवन सवंर जाएगा..!!
और अगर क़िस्मत से शिव मिल गए..!!
तो भवसागर तर जाएगा..!!

कुत्तो की बड़ी तादाद से शेर डरा नहीं करते..!!
महाकाल के दीवाने..!!
किसी के बाप से डरा नहीं करते..!!

वो कोई और नहीं मेरे महादेव ही हैं..!!
जो मेरे खामोश होने पर भी दिल..!!
की आवाज सुन लेते हैं..!!

Mahakal ke Diwane Shayari

वो कोई और नहीं मेरे महादेव ही हैं..!!
जो मेरे खामोश होने पर भी दिल..!!
की आवाज सुन लेते हैं..!!

फना इतना हो जाऊ तुझे पाने के लिए महादेव..!!
की मुझे देखने वालो को भी..!!
तुझसे मोहब्बत हो जाये..!!

1 ही शौक रखते है पर बैमिसाल रखते है..!!
हालात कैसे भी हो फिर भी जुबां पर हमेशा..!!
जय महाकाल” रखते है..!!

मैंने तेरा नाम ले लेकर ही सारे काम किए हैं..!!
लोग समझते हैं कि मैं किस्मत वाला हूं..!!
जय भोलेनाथ..!!

भोले हैं सबका दाता भोले ही भाग्यविधाता..!!
जब कोई काम नहीं आता तो शंभू साथ निभाता..!!
हर-हर महादेव..!!

जिन्दासाँस और मुरदा राख चिलम मे गाँजा दूध मेभाँग..!!
देव भी सोचे बार बारदम लगायेहजार बार..!!
ऐसे है महाकाल..!!

इस सावन में इतनी सी ख्वाहिश पूरी कर देना..!!
महादेव, की जब में आपकी पूजा करने आऊ..!!
तो साथ में वो बैठी हो..!!

इतनी दौलत तो देना ही महादेव की में..!!
अपने मा-बाप को लेकर कैलाश की यात्रा..!!
पर आ सकु..!!

अब तो खुद में जगह नहीं मिलती..!!
आप मौजुद हो मुजमे इस कदर..!!
महादेव..!!

जमाना उन्हे क्या जलाएगा..!!
जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं..!!
जय भोलेनाथ,शिव शम्भू..!!

Sawan Shayari in Hindi Mahakal

अगर महाकाल से मोहब्बत करना सजा है..!!
तो ऐसी सजा मुझे हर बार मंजूर है..!!
जय भोलेनाथ..!!

ही शौक रखते है पर बैमिसाल रखते है..!!
हालात कैसे भी हो..!!
फिर भी जुबां पर हमेशा “जय महाकाल” रखते है..!!

आँख बंद करके मैं इजहार करता हु..!!
ए महाकाल..!!
मैं आपसे हद से ज्यादा..!!
प्यार करता हु..!!

तुझे पाने का मैं सोमवार क्या..!!
प्रतिदिन की उपवास रखु..!!
सब भूल जाऊ सब त्याग करू..!!
तेरे नाम जपु ,तुझे याद करू..!!

बजते हैं डमरू..!!
भस्म से होता हैं शृंगार..!!
इतने अद्भुत ढंग से..!!
सजते हैं महादेव मेरे..!!

थामा हुआ हैं हाथ मेरा आपने..!!
मुझको मालूम हैं..!!
मेरे हर पल लम्हे में मेरे भोलेनाथ..!!
प्यार तुम्हारा हैं..!!

महादेव कहते हैं..!!
पल में अमीर हैं पल में फ़कीर हैं..!!
अच्छे करम कर ले नादान हैं..!!
यह तो बस तकदीर हैं..!!

ना शिकवा तकदीर से..!!
ना शिकायत अच्छी..!!
महादेव हाल में रखे..!!
वही ज़िंदगी अच्छी..!!

ना बादशाह बनना हैं..!!
न मशहूर होना हैं..!!
मुझे बस भोलेनाथ तेरे इश्क़ में..!!
चूर चूर होना हैं..!!

मुझे नहीं लगता किसी..!!
और के लायक हु में..!!
ये प्यार ये ज़िंदगी सब..!!
शिव के लिए हैं..!!

इसे भी पढ़े:- New Dard Bhari Shayari in Hindi | सबसे दर्द भरी शायरी

Shayari on Mahakal

महाकाल कहते हैं..!!
कभी किसी के चेहरे को नहीं बल्कि..!!
उसके दिल क्युकी अगर सफेद रंग में वफ़ा होती..!!
तो नमक हर जख्मो की दवा होती..!!

मंदिर बंद हैं पर..!!
दिल का शिवाला खुला हैं..!!
जिसने भोलेनाथ से लगाई प्रीत..!!
वो अपने हर गमो को भुला हैं..!!

भोलेनाथ..!!
तुझसे ही सारी आस हैं..!!
एक तू ही मेरा विश्वास हैं..!!
कोई हो या ना हो..!!
तू साथ हैं तो सबकुछ मेरे पास हैं..!!

भोले के भक्त हैं हम..!!
किसी के गुलाम नहीं..!!
हर किसी के समझ में आ जाये..!!
आम नहीं हम..!!

शिव शंकर को जिसने पूजा उसका ही उद्वार हुआ..!!
अंत काल को भवसागर में उसका बेडा पार हुआ..!!
भोले शंकर की पूजा करो..!!
ध्यान चरणों में इनके धरो..!!
हर हर महादेव..!!

भोलेनाथ,तुम्हारे रूप में..!!
बसते हैं चारो धाम..!!
तुम ही हो उज्जैन की सुबह..!!
तुम ही हो काशी की शाम..!!

तेरे दर पर आते आते मेरे महाकाल..!!
ज़िंदगी की शाम हो गयी..!!
और जिस दिन तेरा दर देखा..!!
ज़िंदगी नाम हो गयी..!!..!!

शिव की ज्योति से नूर मिलता हैं..!!
सबके दिलो को सरूर मिलता हैं..!!
जो भी जाता हैं भोले के द्वार..!!
कुछ न कुछ जरूर मिलता हैं..!!

मन का निराध न कर..!!
बस महादेव पर विश्वास कर..!!
हर पल साथ हैं मेरे वो डमरू वाला..!!
इस बात का अहसास कर..!!

महाकाल कहते हैं..!!
ऐ बन्दे तू एक कदम भी..!!
मेरी तरफ बढ़ा देता..!!
तो मैं मंजिलो को..!!
मेरी देहलीज से मिला देता..!!

Mahakal Shayari Hindi

छुपी हुई मुस्कान अब..!!
मेरे सामने कैसे आएगी..!!
सामने तो अब आएगी जब..!!
मेरी रूह महाकाल से मिल जाएगी..!!

महाकाल तेरे सीतल को हमने बेरुखी समझा..!!
प्यार को हमने बंदगी समझा..!!
तुम चाहे हमे जो भी समझो हमने तो..!!
तुम्हे अपनी ज़िंदगी समझा..!!

जिसे महाकाल से प्यार नहीं..!!
ऐसा अपना कोई यार नहीं..!!
अगर चाहते हो की भोलेनाथ मिले..!!
तो बस वही करो जिससे दुआ मिले..!!

मेरा एक ख्वाब पूरा हो जाये..!!
ये ज़िंदगी तेरे नाम हो जाये..!!
तेरी पूजा करूंगा इतनी की..!!
शिवभक्त मेरा नाम हो जाये..!!

आज परेशान हु तो..!!
कल सुकून भी मिलेगा..!!
महाकाल मेरे भी हैं..!!
आखिर कब तक रुलाएगा..!!

महादेव,आज पता चला ज़माना क्यों जलता हैं हमसे..!!
क्युकी दोस्ती गहरी हैं आपसे..!!
मैं बुद्धि और ज्ञान कि प्रतीक हूँ..!!
मैं महाकाल की चैली ही ठीक हूँ..!!

भोले तूने तो सारी दुनिया तारी हैं..!!
कभी मेरे सर पे भी धर के हाथ..!!
कह दे चल बेटा आज तेरी बारी हैं..!!
जय श्री महाकाल..!!

मैं चलता गया रास्ते मिलते गए..!!
रास्ते के कांटे फूल बनकर खिलते गए..!!
यह आशीर्वाद है भोलेनाथ का वरना..!!
उसी राह पर लाखो फिसलते गए..!!

बिगड़ा नसीब भी संवर जाता है..!!
बंद किस्मत का ताला खुल जाता है..!!
अँधेरो में भी खुला दरवाजा नजर आता है..!!
जो सर महादेव के चरणों में झुक जाता है..!!

शिव की बनी रहे आप पर छाया..!!
पलट दे जो आपकी किस्मत की काया..!!
मिले आपको वो सब इस अपनी ज़िन्दगी में..!!
जो कभी किसी ने भी ना पाया..!!

Mahakal par Shayari

विश्व का कण कण शिव मय हो..!!
अब हर शक्ति का अवतार उठे..!!
जल थल और अम्बर से फिर..!!
बम बम भोले की जय जयकार उठे..!!

शव हूँ मैं भी शिव बिना..!!
शव में शिव का वास..!!
शिव मेरे आराध्य हैं..!!
मैं हूँ शिव का दास

यह कैसी घटा छाई हैं..!!
हवा में नई सुर्खी आई है..!!
फ़ैली है जो सुगंध हवा में..!!
जरुर महादेव ने चिलम लगाई है..!!

दोस्तों कैसा लगा आपको हमारा यह Mahakal Shayari in Hindi :- पोस्ट यदि आपको पसंद आया तो अपने दोस्तों और सोशल मिडिया पर शेयर जरुर करें । और यदि आप हमें कोई शिकायत या सुझाव देना चाहते हैं तो आप हमें निचे कमेंट में बता सकतें हैं । (धन्यवाद) Most Welcome For Visit Our Sites Quotessad.com

Leave a Comment